Tuesday, October 14, 2014

सपने से

बन कर कुछ पल के लिए अपने से,
हो गए आज फिर वो सपने से। 

No comments:

Post a Comment

आपकी टिप्पणी के लिए धन्यवाद!!!!